SSL Certificate क्या होता है और ये कैसे काम करता है?

0

अधिकांश Bloggers के साथ ऐसा हुआ है कि उन्होंने जो Website बनायीं है उस पर Not Secure का Green signal दिखाई दिया है| क्या आपके Website के साथ भी same यही हुआ है? क्या आप जानते है कि SSL Certificate क्या होता है और ये कैसे काम करता है?

क्या आप अपनी Not secure Website को HTTP से HTTPS में move करना चाहते है? हाँ, तो आप बिलकुल सही जगह आये है इस Article में, मै आपको SSL Certificate के बारे में पूरी जानकारी दूँगा | SSL Certificate के बारे में एक interesting बात ये है की ये SEO के Point of view से आपके Website के लिए बहुत important होता है|

SSL Certificate kya hai

Google का कहना है की अगर आपकी Website SSL Certificate द्वारा Secure होती है तो वो आपकी Website को अन्य Website के comparison में ज्यादा importance देंगे और जिससे आपकी Website Google के search engine में जल्दी Rank करेगी | 

क्या आपने कभी गौर किया है की SSL Certificate वाली Website Secure क्यों मानी जाती है? नहीं, तो चलिए मै बताता हूँ वो इसलिए क्योकि SSL Certificate आपकी website के important डाटा को secure रखता है साथ ही साथ अगर आपका कोई Visitor आपकी Website में अपनी Personal Information देता है तो ये भी safe रहती है | 

SEO में भी SSL Certificate बहुत जरुरी है अगर आपकी website SSL Certificate से secure होगी तो जाहिर सी बात है Google के Bots आपके Website को ज्यादा महत्व देंगे | अगर आप चाहते है की आपकी Website पर Not Secure वाला Green signal ना दिखायी दे और Google आपके Website को आपके Visitors के लिए secure समझे | 

तो इस  Article के सभी Points को ध्यान से समझने की कोशिश कीजिएगा ये Article आपके लिए बहुत Helpful होने वाला है| ठीक है चलिए शुरू करते है की SSL Certificate क्या होता है?(What is SSL Certificate In Hindi)

SSL Certificate क्या होता है?

SSL Certificate एक security technology है| यह small data files का संग्रह होता है| जब किसी User द्वारा भेजा गया उसका Personal Data Web Browser से Web Server की तरफ जाता है तो वो data बिलकुल safely पहुँचता है ऐसा इसलिए होता है क्योकि SSL Certificate में एक Encryption Link होता है जो cryptographically के रूप में fit किया जाता है | Encryption Protocol Internet को permission देता है की User का Personal data दूसरे Website से बिना किसी problem के exchange हो जाये | 

SSL Certificate का पूरा नाम = Secure Sockets Layer   

दोस्तों क्या आपने कभी URLs  को ठीक से notice किया है कुछ URLs http:// इस प्रकार से start होते है और कुछ https:// से start होते है फिर इन दोनों में difference क्या है? मै आपको बताता हूँ इनके बीच “s”  का difference है| 

अब आप सोच रहे होंगे की इससे क्या फर्क पड़ता है तो एक बात आप जान लीजिये इस “s” के द्वारा आपकी Website से User का personal Data secure और encrypted माना जाता है | 

आसान शब्दों में कहा जाये, तो जिस प्रकार आपको offline अपने घर के लिए lock की जरूरत होती है जिससे कोई चोर आपके घर के सामान को चोरी न कर ले ठीक उसी प्रकार online में आपको अपनी Website के लिए lock की जरूरत होती है जिससे कोई hacker आपके और आपके Users के personal data को hack न कर ले|

> Broken Link क्या है?

> On Page SEO क्या है?

> Canonical URL Tag क्या है?

> Mobile First Indexing क्या है?

SSL Certificate के प्रकार

अब आपने ये तो समझ लिया की SSL Certificate kya hota hai? आइये अब समझते है की SSL Certificate कितने प्रकार के होते है? SSL Certificate मुख्य रूप से 6 प्रकार के होते है| इस Article में,  मै आपको इन सभी के बारे में बताऊँगा | 

1. Single Domain SSL Certificate

ज्यादातर Bloggers अपने अलग अलग Website के लिए different different Domain purchase करते है| उन Domain के Subdomain बनाते है| लेकिन एक बात आपको मै clear कर दू कि Single Domain SSL Certificate आपको only single domain पर ही मिलेगा single मतलब single कोई दूसरा नहीं even आपकी Website के Domain का Subdomain भी नहीं होना चाहिए | 

इसमें गौर करने वाली बात ये भी होती है की आपके Domain के सभी Pages Certificate के साथ साथ secured भी होने चाहिए | 

उदाहरण माना आपके Domain(support.com) के पास single domain certificate और उस के support.com/children में जहाँ Children center का main page है तो उसे Certificate के जरिये cover किया जाता है| SEO के लिए आपकी वेबसाइट का Single Domain के पास SSL Certificate होना बहुत जरुरी है|                      

2. Wildcard SSL Certificate

Wildcard SSL Certificate आपकी Website के single Domain और उसके सभी Subdomain के लिए दिया जाता है| Wildcard SSL Certificate से अगर आप अपने Domain के लिए certificate purchase करते है तो ये confirm करता है कि एक Domain के लिए purchase किया गया certificate आप अन्य Subdomain के लिए Use कर सके | 

Wildcard SSL Certificate आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही friendly होता है| उदाहरण माना आप अपनी Website के Domain(support.com) के लिए Wildcard SSL Certificate खरीदते है तो इसे आप अपने Subdomain children.support.com या women.support.com के लिए भी use करे सकते है|

Wildcard SSL Certificate खरीदने से आपको ये फायदा होगा की आपको अपनी Website के domain और subdomain लिए बार बार उसे खरीदने की जरूरत नहीं होगी | आपका एक ही बार में काम हो जायेगा |       

3. Multi Domains (MDC) SSL Certificate

Multi Domains (MDC) SSL Certificate को Unified Communication (UCC) SSL Certificate के नाम से भी जाना जाता है| जैसे की आपको इसके नाम से ही पता चल रहा होगा की इसमें आप multi domain के लिए Certificate लेते है मतलब Unified Communication (UCC) SSL Certificate पर कई Domain और Subdomain के लिए काम कर सकते है| MDC को Server और Brower के बीच communication बनाने के लिए बनाया गया है| 

Multi Domains (MDC) SSL Certificate में एक interesting बात ये है की इसमें बहुत से Domain होते है लेकिन ये Domain एक दूसरे के Subdomain नहीं होते है ये domain एक ही certificate को share करते है| Cloudflare किसी भी HTTPS encryption को Free में SSL Certificate देता है|                            

4. Domain Validation (DV) SSL Certificate

जिस प्रकार से एक bank बिना Verfication किये loan नहीं देता उसी प्रकार Certificate authority (CA) भी आपके Website और आपके Domain को जाने बिना Domain Validation (DV) SSL Certificate नहीं देती है|  Domain Validation (DV) SSL Certificate आपको address bar में URLs के बगल में green padlock में दिखाया जाता है जो की low level का encryption होता है|  

Domain Validation सबसे easy और सबसे fast होने वाला validation है| Domain Validation (DV) SSL Certificate के लिए आपको only Certificate authority (CA) को ये बताना होता है ये आपके website का domain इसे आप operate करते है| इसमें आपको सबसे पहले CA से DNS से जोड़ना होगा उसके बाद एक Email send करके आपको DV SSL Certificate मिल जायेगा |                                          

5. Organization Validation (OV) SSL Certificate

Organization Validation (OV) SSL Certificate यह verify करता है की आपके द्वारा बताये गए organization, Physical location, और Domain ये तीनो सही है या नहीं | Manual Vetting प्रकिया में CA, Organization को contact करते है| 

एक बात आपको मै बता दू की ये process दो stage में complete होता है पहला इसमें CA ये verify करते है Domain का authenticator कौन है और दूसरा Organization real है या नहीं | जब ये सब कुछ अच्छे से verification हो जाता है तभी आपको Organization Validation (OV) SSL Certificate मिलता है| 

6. Extended Validation (EV) SSl Certificate

दोस्तों बाकी के Certificates को तभी लेना सही होता है जब आपकी कोई small Website या Business हो | और उन Certificate को लेने में ज्यादा problem भी नहीं होती है लेकिन Extended Validation (EV) SSL Certificate को बड़े Business handle करने वाले या Sensitive Information रखने वाले Website ही लेते है क्योकि इससे उनके Visitors की personal information confidential रहती है| 

EV SSL Certificate को बहुत अच्छे से identify किया जा सकता है क्योकि इसका security level 5 होता है जो कि अपने आप में बहुत अच्छा माना जाता है| EV SSL Certificate इतनी आसानी से नहीं मिलता है इसके लिए सबसे पहले CA, applicant के Website या Business का review करता है| 

Buy Hostinger Hosting and Free SSL

Additonal discount code:- SEOPAVAN

CA के Review process में सबसे पहले applicant के documents की जाँच होती है उसके बाद applicant का identification किया जाता है और आखिर में third party के database के साथ जानकारी की जांच की जाती है| Extended Validation (EV) SSL Certificate सभी certificates में सबसे costly SSL Certificate है| 

ये certificiate बहुत benificial होता है उनके लिए जिनके बड़े बड़े Businessess  चल रहे होते है या उनकी website एक Branded Website है|                       

SSL Certificate क्यों जरुरी है?

दोस्तों क्या आप चाहते हो की आपकी Website google के Search Engine में Rank न करे और Google आपकी website को importance न दे? नहीं ना, Google आपकी Website को importance तभी देगा जब उसे believe होगा की आपकी Website आपके Visitors के लिए safe and secure है| 

Google को believe दिलाने के लिए आपकी Website के पास SSL Certificate होना बहुत जरुरी है| SSL Certificate आपके और आपके Visitors के sensitive information जैसे Credit card information, Passwords, Usernames, legal documents, contracts  आदि को protect करता है| 

SSL Certificate के जरिये आप अपने website की Google पर Ranking को बड़ा सकते है| SSL Certificate web browser और web server के बीच आपके personal data को hackers से safe रखता है| SSL Certificate में सबसे ज्यादा जरुरी इसलिए होता है क्योकि इससे आपके Visitors का trust आपके website या Business के ऊपर Build होता है साथ ही साथ conversion rates भी improve होती है| 

SSL Certificate लेते time ये जरूर ध्यान में रखना चाहिए की प्रत्येक Website के लिए SSL Certificate अलग अलग होता है| 

SSL Certificate कैसे काम करता है?

दोस्तों जैसे की अभी अपने जाना की SSL Certificate क्या है?SSL Certificate क्यों जरुरी है?अब जानते है कि SSL Certificate कैसे काम करता है? SSL Certificate “Public key cryptography” के तौर पर भी use किया जाता है| 

इस प्रकार की cryptography दो advance keys का इस्तेमाल करती है| जो एक तरह के paasword होते है|  ये Password numbers और english alphbet से बने होते है| Cryptography में दो में से एक key को Private key कहा जाता है और दूसरे key को Public key कहा जाता है| 

जो Public key होता है वो server के लिए जाना जाता है और Public key Domain में भी available होता है| Public key के द्वारा किसी भी information को encrypt किया जा सकता है| 

आइये इसे और अच्छे से समझते है जैसे माना की आपके किसी Visitor Rohit ने आपको message किया “Hello” तो जब ये message आपके पास आएगा तो आपको ये Public key के साथ lock मिलेगा इससे ये फायदा होगा की अगर कोई आपके मैसेज को decode करना चाहता है तो पहले इसे decrypted करना होगा और ऐसा करना possible ही नहीं है| Only आपके ही पास ये authority होती है| आप अपने Private key के साथ इसे unlock कर सकते हो|                               

SSL Certificate कैसे खरीदें?

जैसे की आप अब तक समझ ही गए होंगे की SSL Certificate एक बहुत ही important role play करता है| आपकी website को google के search engine में rank करवाने के लिए तो इसलिए ये बहुत जरुरी है कि आप अपनी website के लिए SSL Certificate जहाँ से भी ख़रीदे उस time ये जरूर ध्यान दे की वो trustable और branded companies हो | Branded companies अपने customers को हमेशा अच्छे service वाले ही SSL Certificate provide कराती है| 

यहाँ मैने 6 SSL Certificate provider companies नाम दिए है जो आपके लिए helpful होने वाले है| 

1GoDaddy
2HostGator
3BigRock
4SSL.com
5Namecheap
6Globalsign

इन companies से SSL Certificate purchase करने के लिए पैसे भी देने होते है | कुछ companies ऐसी भी हो जो Free में SSL Certificate देती है उन ही में से एक है Let’s Encrypt जो International Research group का एक project है | यहाँ से आप बिलकुल free में SSL Certificate ले सकते है | SSL Certificate purchase करने के बाद उसे cPanel में install करना होता है| 

SSL और TLS में अंतर

अधिकांश Bloggers SSL और TSL को एक ही समझते है| क्या आप भी same यही मानते है? अगर हाँ, तो आपको मै बता दूँ कि ऐसा बिल्कुल नहीं है| 

  • SSL का पूरा नाम है “Secure Socket Layer” और TLS का पूरा नाम है “Transport Layer Security”  
  • SSL को पहली बार Netscape द्वारा 1995 में developed किया गया था और वहीं TLS को पहली बार Internet Engineering Task Force द्वारा 1999 में developed किया गया था | 
  • SSL web server और Web browser के बीच secure communication establish करता है और TLS web server और Web browser के बीच secure communication provide करता है| जबकि ये दोनों ही cryptographic protocol है| 
  • SSL के तीन version launched हुए है SSL 1.0, 2.0 और 3.0 वहीं TLS में चार version launched हुए है TLS 1.0, 1.1, 1.2 और 1.3 
  • SSL के सभी Versions की quality अच्छी नहीं थी उन सबको हटा दिया गया और वहीं TLS के 1.0, 1.1 version को भी 2020 में बंद कर दिया गया लेकिन 1.2 version अभी तक अच्छे से work कर रहा है|   

निष्कर्ष: SSL Certificate क्या होता है?

दोस्तों इस article में, मैने आपको SSL Certificate के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की SSL certificate kya hai? SSL Certificate क्यों जरुरी है? SSL Certificate कैसे काम करता है? अगर आपके पास correct documents हो तो SSL Certificate लेने बहुत ज्यादा मुश्किल नहीं है| 

अगर आपने कोई Website बनायीं जो आपके ही लिए secure नहीं है तो आपके Visitors के लिए कैसे secure हो सकती है? इसलिए पहले आपको अपनी ensure website (HTTP) से secure website (HTTPS) बनानी होगी और ये SSL Certificate के जरिये हो सकता है| 

इस Article में, आपने जाना कि SSL Certificate मुख्य रूप से 6 प्रकार के होते है Singal Domain SSL Certificate, Wildcard SSL Certificate, Multi Domains (MDC) SSL Certifiate, Domain Validation (DV) SSL Certificate, Orgnization Validation (OV) SSL Certificate,Extended Validation (EV) SSl Certificate ये सभी Certificates आपके different website के लिए बहुत Important होते है साथ ही में, मैने SSL Certificate कैसे खरीदें और SSL और TLS में अंतर भी बताया |

उम्मीद करता हूँ की आपको इस आर्टिकल से SSL Certificate के बारे में पूरी जानकारी मिली होगी यदि यह Article आपको Helpful लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share कीजिये। |   

FAQ: SSL Certificate क्या होता है?

जिस प्रकार आप चाहते है की आपके घर का सामान secure रहे और उसके लिए आप न जाने कितने तरह के locker बनवाते हो ठीक उसी प्रकार internet की दुनिया में आपको अपने website के important documents को confitial रखने के लिए SSL Certificate नामक locker बनवाना बहुत जरुरी है| अभी भी बहुत से Bloggers ऐसे है जिन्हे उनके Questions के Answer नहीं मिले है| तो मै यहाँ उनके द्वारा search किये गए 3 important Questions के Answer देने की पूरी कोशिश करूँगा |

Q1. SSL handshake क्या है?

Ans. SSL handshake दो parties में बातचीत का एक जरिया है | इसमें एक ही server दो parties negotiation करते है जैसे की Web  browser और Web server पर होता है| SSL handshake ये decide करता है एक session में कौन सा version(SSL/TLS) use करना है| SSL handshake ये भी सुनिशिचित करता है की जो data transfer किया जा रहा है तो safe connection वाली जगह पर हो |

Q2. क्या SSL Certificate फ्री में मिलता है?

Ans. बहुत सी famous companies है जो SSL Certificate provide कराती है लेकिन इसके लिए एक amount भी लेती है वो amount plan आप पर depend करता है की आप कौन सा plan लेना चाहते है monthly wise या yearly wise? आप उस according pay कर सकते है अब बात आती है की क्या SSL Certificate फ्री में मिलता है? तो मै आपको बता दू कि, जी हाँ ये बिलकुल सही है SSL Certificate Free में मिलता है|

Q3. SSL Certificate का अपनी वेबसाइट में प्रयोग ना करने पर क्या हो सकता है?

Ans. अगर आप अपनी Website में SSL Certificate का प्रयोग नहीं करेंगे तो आपकी वेबसाइट कभी भी Google के search engine में Rank नहीं करेगी क्योकि Google ऐसी Websites को visitors के लिए safe and secure नहीं मानता है| उसके लिए इस प्रकार के Website की कोई value नहीं होती है जिसका result ये होता है की आपकी Website भीड़ में बहुत पीछे हो जाती है|

इन्हें भी जाने ;

> Technical SEO क्या है?

> Off Page SEO क्या है?

> Backlink क्या है?

> Robot Txt File क्या है?

Buy Hostinger Hosting and Free SSL

Additonal discount code:- SEOPAVAN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here