Home Blog Youtube Vs Blogging In Hindi

Youtube Vs Blogging In Hindi

0

पहले के समय में लोगों को पता ही नहीं होता था कि हम इंटरनेट से पैसे भी कमा सकते हैं। लेकिन हमारे देश में जैसे जैसे इंटरनेट का विस्तार हुआ उसी प्रकार से हमें पता लगने लगा कि ऑनलाइन पैसे भी कमाए जा सकते हैं जिनमें से YouTube और Blogging दो बेहतरीन विकल्प हैं।

ज़्यादातर लोग पैसे कमाने के लिए इन दो ही तरीकों का इस्तेमाल करते हैं। चाहे यूट्यूब हो या फिर ब्लॉगिंग, दोनों का ही सफर लंबा है और इससे रातों रात अमीर नहीं बना जा सकता। इसलिए काफी लोग इस बात को लेकर संदेह में रहते हैं कि YouTube vs Blogging में से पैसे कमाने के लिए कौनसा विकल्प बेहतर है।

यदि आप भी इसी संदेह में हैं तो इस लेख में हम YouTube vs Blogging के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी देंगे जिससे आप आसानी से यह तय कर पाएंगे कि YouTube vs Blogging में से कौन बेहतर है। इसलिए इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ना लाज़मी समझें।

YouTube vs Blogging में से कौन बेहतर है?

ऑनलाइन पैसे कमाने के दो सबसे बेहतरीन तरीके हैं, YouTube और Blogging. यदि आपने इन दोनों के बारे में रिसर्च की हो तो आपको अच्छे से मालूम होगा कि इन दोनों ही तरीकों से लोग लाखों रुपये हर महीने कमा रहे हैं। ऐसे में आप भी जरूर इनकी मदद से पैसे कमाना चाहेंगे।

परंतु परेशानी वहां पर खड़ी होती है जब यह तय करना मुश्किल हो जाता है कि YouTube और Blogging में से किसका चयन किया जाए। आपकी इस समस्या के निवारण के लिए हम निम्नलिखित YouTube vs Blogging का Analysis करने जा रहे हैं जिसे अच्छे से पढ़ने के बाद आपका तय करना आसान हो जाता है कि यूट्यूब और ब्लॉगिंग में से कौन बेहतर है।

Youtube vs Blogging से पहले अपने Interests देखें

हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि YouTube और Blogging में से दोनों का ही सफर लंबा है। यदि आपके दिमाग में है कि बहुत जल्दी आप इन दोनों में से किसी का इस्तेमाल करके अमीर बन जाते हैं तो इस बात को अभी आपको अपने दिमाग से निकाल देना चाहिए।

इसलिए सबसे पहले आपको अपना Interests देखने चाहिए किस में हैं। आपको खुद से पूछना चाहिए क्या मैं YouTube के लिए कैमरा को फेस कर सकता हूँ? या फिर घंटों एक ही जगह पर बैठ कर ब्लॉग्स लिख सकता हूँ? जिसमें से आपको Interest है उसे चुनना चाहिए।

YouTube और Blogging दोनों में ही सफल होने का समय निश्चित नहीं है इसलिए आपको सोच समझ कर तय करना चाहिए कि आप दोनों में से किसे चुनना चाहते हैं। तय करने में आपको ज़्यादा समय लगता है तो वह भी ले सकते हैं पर फैसला आपको सूझ-बुझ से ही लेना होगा।

Youtube vs Blogging के लिए Requirements

Youtube या Blogging में से किसी एक को अपना लेने के बाद आपको यह भी देखना होगा कि इन दोनों के लिए आव्यशकताएं कौन कौनसी हैं। क्योंकि इन दोनों में जल्दी सफलता के लिए आपको कुछ Investment तो करनी ही होगी। इसलिए अब हम Youtube vs Blogging में आवयश्क्ताओं के बारे में उल्लेख करने जा रहे हैं।

YouTube Channel के लिए Requirements

किसी YouTube चैनल को वैसे तो Gmail के माध्यम से मुफ्त में ही बनाया जा सकता है और इसमें वीडियोज़ भी मुफ्त में अपलोड कर सकते हैं। लेकिन अपने चैनल को एक सफल चैनल बनाने के लिए कुछ आव्यशकताएं होती हैं जिनकी जानकारी निम्नलिखित है।

1. Camera

यह तो आप पहले ही जान चुके हैं कि YouTube में हमें कैमरा के फेस करना होता है इसलिए आपके पास अच्छा कैमरा होना चाहिए। Viewers केवल उन्हीं वीडियोज़ को देखते हैं जिनकी वीडियो क्वालिटी अच्छी होती है। यदि आपके पास एक प्रोफेशनल कैमरा नहीं है तो आप मोबाईल से भी वीडियो बना सकते हैं लेकिन उसकी भी वीडियो Quality अच्छी होनी चाहिए।

2. Lighting Setup

Viewers यूट्यूब वीडियो में किसी भी जानकारी को सुनने के साथ साथ जानकारी देने वाले को देखते भी हैं। अगर वीडियो में चेहरा ही साफ़ ना आए तो कोई भी Viewer उस वीडियो को देखना पसंद नहीं करेगा। इसके लिए आपको चाहिए होता है एक Lighting Setup. यदि आप Lighting Setup को Afford नहीं कर सकते तो आपको बाहर जाकर वीडियो बनानी होगी जहां पर वीडियो अच्छी आए।

3. Voice Quality

आप खुद सोचें कि यदि कोई यूट्यूब पर कोई वीडियो में जानकारी दे रहा है लेकिन उसकी आवाज़ ही साफ़ नहीं आ रही तो क्या आप उस वीडियो को देखना पसंद करेंगे? आपका जवाब होगा नहीं। इसलिए आपकी वीडियो की Voice Quality का अच्छा होना भी जरूरी है जिसके लिए आपको एक Mic की जरूरत पड़ती है। बिना माइक के वीडियो बनाने पर आपको काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

4. Video Editing

इस बात की आपको बाखूबी से जानकारी होनी चाहिए कि किसी भी वीडियो को एक ही बार में नहीं बनाया जा सकता। वीडियो बनाने के दौरान आपको रुकना पड़ता है, कभी भूल जाते हैं या कभी स्थिति ही ऐसी बन जाती है कि वीडियो को रोकना पड़ता है।

वीडियो में ऐसे कुछ Parts को हटाने के लिए और वीडियो को आकर्षक बनाने के लिए हमें वीडियो को Edit करना होता है। आप इसके लिए किसी Video Editor को हायर भी कर सकते हैं या फिर खुद भी Video को Edit कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको Video Editing का ज्ञान होना चाहिए।

5. YouTube SEO

जब हम YouTube पर कुछ सर्च करते हैं तो बहुत सारी Videos हमारे सामने आ जाती हैं। हर YouTuber चाहेगा कि जब कोई यूट्यूब पर कुछ सर्च करे तो उसकी वीडियो सबसे ऊपर हो। आपको बता दें कि एक कला की मदद से हम अपनी वीडियो को Search Results में से सबसे ऊपर ला सकते हैं और इस कला का नाम है SEO (Search Engine Optimization). आपको अपनी वीडियो को टॉप रैंक करवाने के लिए SEO को सीखना पड़ेगा।

Blogging के लिए Requirements

YouTube की तरह Blogging से अच्छी कमाई करने के लिए इसमें भी आपको कुछ चीज़ों की जरूरत पड़ती है जिनकी जानकारी हम निम्नलिखित आपको प्रदान करने जा रहे हैं।

1. Blogging Platform

Blogging के लिए सबसे महत्त्वपूर्ण है किसी ब्लॉगिंग प्लेटफार्म का होना। ब्लॉगिंग के लिए दो प्लेटफार्म प्रसिद्ध हैं जोकि Blogger और WordPress हैं। वैसे तो Blogger का इस्तेमाल करके आप फ्री में अपना ब्लॉग बना सकते हैं लेकिन इसके सीमित फीचर्स होने की वजह से इसमें सफलता प्राप्त करना मुश्किल है। इसलिए आपको WordPress को इस्तेमाल करने के लिए होस्टिंग लेनी होगी जिसके प्रति साल आपको पैसे देने होते हैं।

2. Domain Name

जैसे आपको मेरे घर तक पहुंचना हो तो आपके पास मेरा पता होना जरूरी है ठीक उसी प्रकार से किसी ब्लॉग को विजिट करने के लिए उसका डोमेन नेम होना जरूरी है। फ्री ब्लॉग जो हम बनाते हैं उसमें हमें काफी लंबा डोमेन नाम मिलता है जिसे याद रखना मुश्किल होता है। इसलिए हमें डोमेन नेम लेने की आव्यशकता होती है ताकि यूज़र्स को हमारे ब्लॉग का डोमेन नेम याद रखने और दोबारा हमारे ब्लॉग पर विज़िट करने में आसानी हो। आजकल .Com और .In डोमेन काफी प्रसिद्ध हैं।

3. Blogs को लिखने का कौशल

जो नए ब्लॉग होते हैं वह अक्सर अपने ब्लॉग में Aricles को कॉपी और पेस्ट करके ब्लॉग को सफल बनाने की कोशिश करते हैं लेकिन बाद में वह यह बात अच्छे से जान जाते हैं कि इसमें कोई भी सफलता हमें नहीं मिलते। इसके लिए हमें खुद बैठकर आर्टिकल लिखने होते हैं और उसे आकर्षक बनाना होता है। जिसके बारे में हम लिख रहे हैं उसके बारे में रिसर्च भी करनी होती है। आपको अच्छे से आर्टिकल लिखना आना चाहिए।

4. Blogging SEO

यूट्यूब की तरह ब्लॉगिंग में भी SEO होता है। आपने गूगल पर कुछ सर्च किया हो तो देखा होगा कि बहुत सारे रिजल्ट आते हैं जिनमें से अधिकतम ब्लॉग ही होते हैं। गूगल के अलावा और भी सर्च इंजन होते हैं जिसमें सभी ब्लॉगर अपनी ब्लॉग पोस्ट को टॉप पर लाना चाहते हैं। SEO के लिए हमें काफी धैर्य की जरूरत होती है क्योंकि एक ही दिन में किसी पोस्ट या ब्लॉग को ऊपर नहीं लाया जा सकता। कई ब्लॉग्स को तो 6-6 महीने भी लग जाते हैं।

5. Keyword Research

फ़र्ज़ कीजिये कि मैं आपको वह बातें बताता रहूं जिसमें आप दिलचस्पी ही नहीं रखते तो क्या आप मेरी बातें सुनेंगे? नहीं! इसी तरह आपको एक सफल ब्लॉग के लिए वह ब्लॉग पोस्ट लिखनी होती हैं जिसे लोग सर्च इंजन पर सर्च करना चाहते हैं और जिसके बारे में सच में लोग जानना चाहते हैं। इसके लिए हमें Keyword Research की जरूरत पड़ती है जिसके लिए इंटरनेट पर बहुत सारे टूल उपलब्ध हैं। फ्री टूल के मुकाबले पेड Keyword Researching Tools ज़्यादा कारगर साबित होते हैं।

YouTube vs Blogging के लिए Earning Sources

Youtube और Blogging दोनों में ही पैसे कमाने के बहुत सारे तरीके हैं। लेकिन निम्न हम केवल उन्हीं तरीकों के बारे में उल्लेख करने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल सबसे ज़्यादा होता है और जिनसे कमाई भी अच्छी खासी हो जाती है।

YouTube Channel के Earning Sources

1. Google AdSense

यूट्यूब गूगल द्वारा संचालित किया जाता है और गूगल ने YouTubers की कमाई के लिए Google AdSense को लांच किया था। गूगल एडसेंस से पैसे कमाने के लिए आपके यूट्यूब चैनल पर न्यूनतम 1000 Subscribers होने चाहिए और 4000 घंटे का वाच टाइम आपके चैनल पर पूरा होना चाहिए। तब ही आप गूगल एडसेंस से पैसे कमा सकते हैं। आपको बता दें कि Google AdSense की यह पालिसी समय समय पर अपडेट होती रहती है।

2. Affiliate Marketing

एफिलिएट मार्केटिंग होता है किसी कंपनी के उत्पादों को प्रोमोट करना और जब आपके लिंक से कोई उस उत्पाद को खरीदता है तो उससे आपकी कमाई होती है। अपनी यूट्यूब वीडियो की डिस्क्रिप्शन में अपने एफिलिएट लिंक डाल सकते हैं और उत्पाद के बारे में वीडियो में जानकारी भी दे सकते हैं।

3. Sponsored Videos

Sponsored Videos का प्रचलन आजकल काफी बढ़ चूका है। आप किसी यूट्यूब वीडियो को देखते होंगे तो आपको यूट्यूबर किसी उत्पाद को प्रोमोट करता दिख रहा होगा। इसी को Sponsored Videos कहा जाता है। ज़्यादातर Sponsorship हमें किसी कंपनी द्वारा मिलती है जिसके बदले में कंपनी हमें कुछ पैसे देती है। यह पैसे पहले से ही तय किये जाते हैं।

Blog के Earning Sources

1. Google AdSense

यूट्यूब के साथ साथ हम गूगल एडसेंस के माध्यम से ब्लॉग से भी पैसे कमा सकते हैं। इसके लिए हमें अपने ब्लॉग को एडसेंस Friendly बनाने एक बाद एडसेंस एक लिए आवेदन करना होता है जिसके बाद एडसेंस द्वारा आपका ब्लॉग चेक किया जाता है और Approval के बाद आप अपने ब्लॉग से पैसे कमा सकते हैं।

2. Affiliate Marketing

ज़्यादातर एफिलिएट मार्केटिंग ब्लॉग्स में की जाती है क्योंकि किसी ब्लॉग पोस्ट में हम उत्पाद के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दे सकते हैं। आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में एफिलिएट लिंक को डाल सकते और बढ़िया कमीशन प्राप्त कर सकते हैं।

3. Sponsored Posts

Youtube के मुकाबले Blogs के लिए Sponsored पोस्ट मिलना काफी मुश्किल होता है क्यूंकि लोग किसी Sponsorship को पढ़ने से ज़्यादा देखना और सुनना पसंद करते हैं। इसलिए कंपनियां भी ज़्यादातर स्पॉन्सरशिप यूट्यूब वीडियो के लिए ही करती हैं।

YouTube vs Blogging का Earning Comparison

Youtube vs Blogging इन दोनों में ही आप पैसे कमा सकते हैं, परंतु सवाल यह उठता है कि दोनों में से कमाई ज़्यादा किस में होती है? तो इसका जवाब आपकी ट्रैफिक पर निर्भर करता है। जितनी अधिक आपके ब्लॉग या यूट्यूब चैनल पर ट्रैफिक आती है उतनी ही अधिक आपकी कमाई होती है।

हालांकि ब्लॉग में आपको यूट्यूब से ज़्यादा पैसे मिलते हैं जिसका मुख्य कारण है CPC. किसी यूट्यूब वीडियो पर यदि 5000 Views आते हैं तो कमाई होती है $3 से $5 के बीच में वहीं आपकी ब्लॉग पोस्ट को अगर 5000 लोग पढ़ते हैं तो आप $10 से $20 के बीच में कमा सकते हैं।

इससे आपको मालूम हो गया होगा कि यूट्यूब के मुकाबले ब्लॉग से ज़्यादा कमाई होती है। लेकिन यहां पर यह बात भी निकल कर आती है कि एड के क्लिक करने पर यूट्यूब से कमाई ज़्यादा होती है।

YouTube vs Blogging द्वारा Name and Fame

कई लोग ऐसे होते हैं जो पैसे नहीं कमाना चाहते लेकिन अपना नाम बनाकर मशहूर जरूर होना चाहते हैं। यदि आप भी उन्हीं लोगों में से हैं तो आपको यूट्यूब का चयन करना चाहिए क्योंकि इस माध्यम से आपके फेमस होने के चांस ज़्यादा होते हैं।

किसी ब्लॉग को आप अगर लिखते हैं तो लोग केवल उसे पढ़ते हैं लेकिन आप अगर यूट्यूब वीडियो बनाते हैं तो लोग आपको देखते हैं और पढ़ने से ज़्यादा आजकल लोग देखना और सुनना पसंद करते हैं। बहुत सारे लोग यूट्यूब द्वारा फेमस हुए हैं जिनमें से कुछ को तो आप भी जरूर जानते होंगे।

YouTube vs Blogging में जल्दी सफलता किस में मिलेगी?

यहां पर आखिर में बात यहां पर अटक जाती है कि YouTube vs Blogging में से जल्दी सफलता किस में मिलती है? तो इसका जवाब है कि यह बात आपकी मेहनत पर निर्भर करती है की किस में आपको जल्दी सफलता मिलेगी। दोनों में ही आपको कड़ी मेहनत करनी होगी।

एक ब्लॉग को बनाने के लिए मुख्य तौर पर हमें SEO का ज्ञान होना चाहिए क्योंकि जितनी टॉप रैंक पर हमारी ब्लॉग पोस्ट होंगी उतनी ही अधिक कमाई और जल्दी सफलता के आसार हमें मिलते हैं। वहीं दूसरी तरफ Algorithm के माध्यम से यूट्यूब खुद आपकी वीडियो को लोगों के Suggestions में लाता है।

आपकी कोई भी वीडियो कभी भी वायरल हो सकती है और नए Creators को प्रोमोट करने के लिए यूट्यूब समय समय पर अपडेट लाता है। इससे आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि ब्लॉगिंग के मुकाबले यूट्यूब में सफलता प्राप्त करना आसान होता है लेकिन ब्लॉगिंग से कमाई भी ज़्यादा होती है।

YouTube vs Blogging दोनों ही कर सकते हैं?

बहुत से लोग आपने देखे होंगे जो यूट्यूब चैनल और ब्लॉग दोनों को ही चला रहे हैं। लेकिन आपको हम पहले ही बता चुके हैं कि दोनों का सफर ही लंबा होता है इसलिए आपको पहले इनमें से किसी एक का चयन करना चाहिए।

क्योंकि यदि आप दोनों ही बना लेते हैं तो आप किसी एक की तरफ ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे जिसमें सफलता ना मिलने पर बाद में खुद ही इन्हें छोड़ देते हैं। जब आप किसी एक में सफल हो जाते हैं तो दूसरा प्लेटफार्म भी चुन सकते हैं और इससे तो आपको आसानी भी होगी क्योंकि अपनी कमाई से आप अपनी जरूरतों के हिसाब से हायर कर सकते हैं।

YouTube vs Blogging में असामान्यताऐं

YouTube और Blogging दोनों अलग अलग प्लेटफार्म हैं जोकि एक दूसरे से अलग हैं। हमें इन दोनों की कुछ असामान्यताऐं देखने को मिलती हैं जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है:-

  1. यूट्यूब में आप कंटेंट केवल वीडियो के रूप में ही बना सकते हैं वहीं ब्लॉग में आप टेक्स्ट, वीडियो और इमेज जैसे कई तरीकों से कंटेंट बना सकते हैं।
  2. यूट्यूब चैनल को यूट्यूब पर मुफ्त में ही होस्ट किया जा सकता है लेकिन ब्लॉग को होस्ट करने के लिए हमें होस्टिंग का खर्चा उठाना पड़ता है।
  3. यूट्यूब वीडियो के लिए आपको माइक, कैमरा और स्टैंड जैसे हार्डवेयर्स की ज़्यादा जरूरत होती है लेकिन ब्लॉग के लिए SEO, Research जैसी फंक्शनलिटीज़ की जरूरत होती है।
  4. यूट्यूब के लिए आपको ज़्यादा टेक्निकल होने की जरूरत नहीं है बल्कि ब्लॉग के बढ़िया फीचर्स को इस्तेमाल करने के लिए आपको थोड़ा टेक्निकल होने की जरूरत होती है।
  5. ब्लॉग के मुकाबले यूट्यूब चैनल से पैसे कमाने के तरीके कम हैं।
  6. 6.       यूट्यूब चैनल का असली मालिक यूट्यूब होता है जो किसी भी समय आपका चैनल डिलीट रखने की क्षमता रखता है लेकिन ब्लॉग पर आपका खुद का कंट्रोल रहता है।

YouTube vs Blogging में सामान्यताऐं

अलग अलग प्लेटफार्म होने के बावजूद दोनों में ही हमें कुछ सामान्यताऐं देखने को मिलती हैं जिसके बारे में जानकारी हम निम्नलिखित आपको देने जा रहे हैं:-

  1. डिजिटल दुनिया में एक कहावत है कि Content is King! यदि आपका कंटेंट बढ़िया और ओरिजिनल है तो आप दोनों में ही जल्दी सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इसलिए दोनों में ही आपका कंटेंट ओरिजिनल होना चाहिए।
  2. किसी भी कार्य को सफल बनाने के लिए हमें उसमें इन्वेस्टमेंट जरूर करनी पड़ती है। जैसा कि हम बता चुके हैं कि यूट्यूब के लिए कैमरा, माइक, वीडियो एडिटर और सेटअप आदि की जरूरत होती है वहीं ब्लॉगिंग के लिए आर्टिकल राइटर, SEO, डोमेन नेम और कीवर्ड रिसर्च टूल आदि की जरूरत होती है। इससे सिद्ध होता है कि दोनों में ही हमें कुछ इन्वेस्टमेंट करनी होती है।
  3. यूट्यूब चैनल और ब्लॉग में से दोनों को सफल बनाने के लिए एक प्रॉपर प्लान और रिसर्च की जरूरत होती है जिसके लिए हमें टाइम देना पड़ता है। इसलिए हम कह सकते हैं कि दोनों में ही हमें टाइम देने की जरूरत पड़ती है।
  4. शुरुआत में लगभग सभी लोग उपरोक्त बताई गई आव्यशकताओं को Afford नहीं कर पाते। इसलिए दोनों में ही हमें कुछ न कुछ नया सीखने की जरूरत होती है जैसे कि ब्लॉग के लिए राइटिंग, SEO और कीवर्ड रिसर्च आदि और यूट्यूब चैनल के लिए वीडियो एडिटिंग, स्क्रिप्ट राइटिंग आदि।
  5. यूट्यूब चैनल और सफलता प्राप्त करने के लिए दोनों में ही समय लगता है। ब्लॉग को सफल बनाने के लिए 3 से 6 महीने लग जाते हैं वहीं यूट्यूब चैनल को सफल बनाने के लिए लगभग एक साल का समय लगता है।
  6. पैसे कमाने के लिए और लोगों तक पहुंचने के लिए दोनों ही बढ़िया तरीके हैं। इन दोनों से ही आज बहुत सारे लोग लाखों में कमाई कर रहे हैं।

निष्कर्ष

उपरोक्त हमने आपको YouTube और Blogging दोनों के ही बारे में विस्तार से आप को जानकारी दी है। दोनों के लिए आव्यशकताओं के साथ साथ इसकी कमाई के माध्यम और अन्य जानकारियां भी आपको प्राप्त हो चुकी हैं।

असल में सभी की सोच अलग होती है। इन सभी Points को ध्यान में रखकर किसी को YouTube आसान लगेगा वहीं किसी के लिए Blogging आसान होगी। अब आपको खुद तय करना होगा कि YouTube vs Blogging में बेहतर कौन है। आपको इन सभी पॉइंट्स को ध्यान में रखकर फैसला करना चाहिए।

उपरोक्त बताई गई जानकारी अगर आपको पसंद आती है तो इस लेख को अपने जानने वालों के साथ जरूर शेयर करें ताकि वह भी उलझन से हटकर यह तय कर पाएं कि YouTube vs Blogging में से कौनसा प्लेटफार्म बेहतर है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here